Home गुजरात पहले दिन पांडेसरा पुलिस के खिलाफ तो दूसरे दिन समर्थन में निकली...

पहले दिन पांडेसरा पुलिस के खिलाफ तो दूसरे दिन समर्थन में निकली रैली,पुलिस इंस्पेक्टर के समर्थन में लगे नारे

28
0

 

 

सूत्रों के अनुसार दुबारा शराब बेचने वालों की टीम ने निकलवाई रैली

कैमरे की नजर में मंगलवार की रैैली में कांग्रेस से जुड़े लोग शामिल थे। शुक्रवार को निकली रैली में सत्ताधारी भाजपा से जुड़े लोग शामिल दिखे

 

 

 

सूरत।पांडेसरा थाना क्षेत्र के नागसेननगर में कानून व्यवस्था की हालत को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। तीन दिन पहले एक पक्ष ने हालत खराब बताते हुए रैली निकाली थी। शुक्रवार को दूसरे पक्ष ने कानून व्यवस्था को बेहतर बताते हुए रैली निकाली।

महिलाओं और बच्चों समेत सैकड़ों लोगों ने मंगलवार को नागसेननगर और आस-पास के इलाके में कानून व्यवस्था की लचर हालत को लेकर रैली निकाली थी। उन्होंने पुलिस पर बूटलेगर्स के साथ मिलीभगत कर क्षेत्र में अवैध रूप से शराब बिक्री करवाने का आरोप लगाया था। शराब के दूषण के कारण काल का ग्रास बने लोगों के पोस्टर, बैनर लेकर आए लोगों ने पुलिस की खिलाफ नारेबाजी की थी। बाद में कुछ अग्रणियों ने पुलिस आयुक्त को ज्ञापन देकर शराब माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी।

शुक्रवार को पांडेसरा थाना क्षेत्र से रैली की शक्ल में कुछ लोग शहर पुलिस आयुक्त सतीष शर्मा कार्यालय पहुंचे। वह पांडेसरा थाना प्रभारी के.बी.झाला और पुलिस के समर्थन में नारे लगा रहे थे। उनका कहना था कि पांडेसरा पुलिस ने समाज कंटकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है तथा क्षेत्र में कानून व्यवस्था को बेहतर किया है।

इसके कारण समाज कंटक परेशान हैं। पुलिस समर्थक इन लोगों ने आरोप लगाया पुलिस को बदनाम करने और थाना प्रभारी को हटाने के लिए विपक्ष के साथ मिल कर षडयंत्र के तहत मंगलवार को रैली निकाली गई थी।

इस रैली में अधिकतर वही लोग थे, जिनके गोरखधंधे पुलिस की सख्ती से प्रभावित हुए थे। गौरतलब है कि मंगलवार की रैैली में कांग्रेस से जुड़े लोग शामिल थे। शुक्रवार को निकली रैली में सत्ताधारी भाजपा से जुड़े लोग शामिल हुए।

खास बात तो यह थी की रैली में आये ज्यादातर लोगों को यह नही पता था कि वो रैली में क्यो आये हैं।
देखो वीडियो क्या कह रहे हैं लोग-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here