Home धर्म Religion and Spirituality News in Hindi – कुंडली के अनुसार जानें कब...

Religion and Spirituality News in Hindi – कुंडली के अनुसार जानें कब और कैसे होगी आपकी मृत्यु

425
0

जिसने जन्म लिया है उसकी मृत्यु होकर रहेगी और जिसकी मृत्यु हुई है उसका जन्म भी होगा। गीता में भगवान श्रीकृष्ण ने स्वयं कहा है। जीवन और मृत्यु का क्रम हमेशा चलता रहता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार हर व्यक्ति की कुंडली में 6ठवां, 8वां और 12वां घर रोग और शारीरिक कष्ट और मृत्यु से संबंधित होता है। इन्हीं से व्यक्ति के स्वास्थ्य और जीवन मृत्यु का विचार किया जाता है। कुंडली में इन घरों में कौन सा ग्रह होता है वो भी व्यक्ति की मृत्यु का कारक होता है। आइए देखते हैं मृत्यु को लेकर ज्योतिषशास्त्र से कुंडली देख कर कैसे पता लगाया जाता है।

 

mrityu yog

1. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यदि व्यक्ति की कुंडली में मंगल 5वें, सूर्य 7वें और शनि अपनी नीच राशि मेष में है तो ऐसे व्यक्ति की मृत्यु 70 वर्ष की उम्र में होने की आशंका रहती है।

2. ज्योतिषशास्त्र में पाप ग्रह मंगल, शनि, राहु-केतु और सूर्य को माना गया है। अगर कुंडली का 8वां भाव पाप ग्रह युक्त है तो इस स्थिति में व्यक्ति की मृत्यु कष्टकारक होने की संभावना होती है। लेकिन अगर 8वां घर शुभ ग्रह से युक्त हैं तो व्यक्ति बिना किसी रोग के होती है।

3. यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में लग्न में चंद्रमा होता है और क्षीण सूर्य 8वें घर में स्थित होता है, तो लग्न से बारहवें घर में गुरु और सुखभाव यानी चौथे घर में पापग्रह हैं तो जातक की मृत्यु दुर्घटना से होने की आशंका रहती है।

4. अगर व्यक्ति की कुंडली में लग्न से 8वें या त्रिकोणस्थ सूर्य, शनि, चंद्र और मंगल है तो ऐसे व्यक्ति की मौत सड़क दुर्घटना या फिर किसी दिवार से टकाराकर होने की आशंका होती है।

5. ज्योतिषशास्त्रियों के अनुसार यदि कुंडली में कमजोर चंद्रमा 8वें घर में होता है और इस स्थिति में शनि बलवान होता है तो आंखों की समस्या से मृत्यु होने की संभावना होती है।

6. ज्योतिष के अनुसार जिस जातक की कुंडली के 8वें घर में जो ग्रह सबसे बलवान दिखता है, उसकी मृत्यु उस ग्रह के धातु के प्रकोप से होने की आशंका रहती है। जैसे सूर्य अष्टम भाव में है तो अग्नि से, चंद्रमा है तो जल से, मंगल है तो आयुध से, बुध है तो बुखार से, बृहस्पति है तो कफ से, शुक्र है तो क्षुधा और शनि है तो तृषा रोग से व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here