Home देश Unnao News: पुलिस की पिटाई से हिरासत में युवक की मौत, पुलिसकर्मियों...

Unnao News: पुलिस की पिटाई से हिरासत में युवक की मौत, पुलिसकर्मियों पर हत्या की FIR

72
0

उन्नाव में एक युवक की पुलिस हिरासत में मौत के बाद बवाल हो गया है.

उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao) में सब्जी विक्रेता की पुलिस कर्मी की पिटाई से मौत (Death) का आरोप लगा है।मामले में दो पुलिसकर्मियों और होमगार्ड के खिलाफ कार्रवाई करते हुए हत्या की एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें kf परिजनों ने पुलिस की पिटाई से कोतवाली में मौत का आरोप लगाते हुए उन्नाव-हरदोई मार्ग पर जाम लगा दिया।यही नहीं मामले में गुस्साए लोगों ने आसपास की दुकानों को जबरदस्ती बंद कराकर जमकर हंगामा किया।

इस दौरान पुलिस व परिजनों के बीच तीखी झड़पें हुईं. करीब 5 घंटे जाम के बाद एसपी ने मामले की जांच कराकर कारवाई का आश्वासन मृतक के परिजनों को दिया, लेकिन फिर भी बात नहीं बनी। मामले में एसपी के निर्देश पर दो आरक्षी को सस्पेंड किया गया, वहीं होमगार्ड को बर्खास्त कर दिया गया है।

इसके बाद भी परिजन हत्या का मुकदमा व 10 लाख के मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। देर रात रात 11 बजे पुलिसकर्मियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज होने पर मृतक के परिजन शांत हुए। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।इस पूरे बवाल के दौरान बिना मास्क दो गज की दूरी का सैकड़ों की भीड़ ने कोरोना कर्फ्यू में कोविड नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाईं। वहीं पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवार से फोन पर बात की और हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है।

उन्नाव के बांगरमऊ कस्बे में आंशिक लॉकडाउन में दुकान खुले होने व सब्जी विक्रेताओं के सब्जी मंडी में फेरी लगाने की सूचना पर बांगरमऊ कोतवाली पुलिस के सिपाही विजय चौधरी अपने साथी सिपाही सीमावत व होमगार्ड सत्यप्रकाश के साथ गश्त करने निकला था।

बताया जा रहा है शाम करीब 4 बजे कोरोना कर्फ्यू में सब्जी मंडी में सब्जी का ठेला लगाने पर सब्जी विक्रेता फैसल को सिपाही विजय चौधरी ने टोक दिया।जिस पर दोनों में बहस हो गई और सिपाही ने लॉकडाउन उल्लंघन का हवाला देकर थप्पड़ जड़ दिया।

आरोप है यह कि सिपाही बुलेट बाइक से सब्जी विक्रेता को कोतवाली ले गए।यहां फैसल को जमकर मारा-पीटा गया, इसके बाद सब्जी विक्रेता की तबियत बिगड गई।पुलिस कर्मी आनन-फानन में उसे सीएचसी बांगरमऊ ले गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।फैसल की मौत होने पर सिपाही मौके से भाग निकले, इस दौरान किसी ने सूचना मृतक के परिजनों को दी तो मौके पर सैकड़ों की भीड़ जमा हो गई।

कई घंटों तक चला परिजनों का हंगामा

इसके बाद चाचा मेराज व भाई इकराम ने पुलिस की पिटाई से फैसल की मौत होने का आरोप लगाकर हंगामा कर दिया।परिजनों ने उन्नाव-हरदोई मार्ग पर बल्ली व आडी तिरछी बाइक खड़ी कर जाम लगाकर बवाल कर दिया। परिजनों व पुलिस में तीखी झड़पें भी खूब हुईं। परिजन आरोपी सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की मांग व 10 लाख की मुआवजे की मांग पर अड़े रहे।

एएसपी शशिशेखर सिंह ने कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ भीड़ को नियंत्रित करने में जुटे, मगर भीड़ बढ़ती रही और शाम होते-होते हालात बिगड़ गए। रात करीब 9 बजे बवाल बढ़ते देख एसपी आनंद कुलकर्णी ने सिपाही विजय चौधरी, सीमावत को सस्पेंड कर दिया और होमगार्ड सत्यप्रकाश की सेवा समाप्त के आदेश दिए। फिर भी परिजन शव सड़क पर रख जाम लगाए रहे। बवाल शांत न होने पर मृतक के परिजन की तहरीर पर सिपाही विजय चौधरी, सीमावत व होमगार्ड सत्यप्रकाश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।

जिसके बाद परिजनों ने शव को पुलिस के सुपुर्द किया और भीड़ घरों को लौट आईं।वहीं करीब 6 घंटे तक बवाल चला और पुलिस मामले को शांत कराने में हांफती रही।

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने परिजनों से की बात वहीं पुलिस हिरासत में युवक की मौत के मामले में मृतक युवक के भाई से पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने फोन पर बात की। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मृतक के भाई सलमान से बात की। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मृतक के भाई से पूरा घटनाक्रम जाना। वहीं पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मृतक के परिजनों को हर संभव मदद करने का आश्वासन भी दिया है।पूर्व सीएम ने न्याय न मिलने पर खुद आकर मिलने का आश्वासन दिया है।आपको बता दें की स्थानीय सपा नेता मुन्ना अल्वी के फोन से अखिलेश यादव ने बात की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here