Home अजब गजब यहां पोस्टमार्टम के दौरान अचानक लाशें लगती है कराहने, कारण वैज्ञानिक है...

यहां पोस्टमार्टम के दौरान अचानक लाशें लगती है कराहने, कारण वैज्ञानिक है या फिर कुछ और…

52
0

नई दिल्ली। पोस्टमार्टम के बारे में तो आप सभी ने सुना है। जब किसी व्यक्ति की आकस्मिक मौत हो जाती है तो शवपरीक्षा यानि कि पोस्टमार्टम की मदद से मौत के सटीक कारणों का पता लगाया जाता है। पोस्टमार्टम में मृत शरीर का चीड़-फाड़ कर डॉक्टर व्यक्ति की शरीर से जुड़ी तमाम बातों का पता लगाता है जैसे कि मौत की वजह? समय? इत्यादि। पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी होने के बाद बॉडी को अंतिम संस्कार के लिए परिवार वालों को सौंप दिया जाता है।

mortuary

पोस्टमार्टम जिसके बारे में सुनने मात्र से हमारी रूह कांप उठती है वह डॉक्टरों के लिए भी कम भयानक नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि शवपरीक्षा के दौरान कुछ ऐसी घटनाएं घटती हैं जिससे डाक्टरों के भी होश उड़ जाते हैं।

जैसा कि हम जानते है कि मरणोपरांत शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं जैसे कि बॉडी मसल्स का अकड़ जाना, त्वचा की रंग का नीला पड़ जाना, शरीर का ठंडा पड़ जाना इत्यादि।

doctors

कई बार डाक्टर्स ने पोस्टमार्टम के दौरान अपने अनुभवों को शेयर करते हुए कहते हैं कि कई बार शवपरीक्षा करने के दौरान बॉडी से कराहने या चीखनें की आवाज आती है। जिसे सुनकर ऐसा लगता है जैसे कि सामने पड़ी हुई लाश में अचानक जान आ गई हो।

अचानक से जब इस तरह की आवाजें आती है तो एकबार के लिए डॉक्टर्स की भी सांसे अटक जाती है। हालांकि ऐसा होने के पीछे का कारण पूरी तरह से वैज्ञानिक है।

दरअसल, शरीर के अंदर मौजूद बैक्टीरिया गैस बनाते हैं जिसके कारण बॉडी के वोकल मसल्स में खिंचाव आता है और यही वजह है जिसके चलते डेड बॉडी कराहने और चीखने लगती है।

mortuary

कई बार तो इंसान की आंखें बाहर आ जाती हैं,क्योंकि शरीर के अंदर बॉडी पार्टस में सड़न शुरू हो जाती है। इसके साथ ही इन्टेस्टाइन्स में बनने वाली गैस भी इसके पीछे की प्रमुख वजहों में से एक हैं।

जब गर्भावस्था के दौरान किसी महिला की मौत होती है तो उस दौरान बॉडी में बनने वाली गैस बच्चे को मां के पेट से बाहर की तरफ धकेलती है और बच्चा मां के शरीर से निकल आता है। हालांकि ऐसे मामलों में अधिकतर बच्चों की मौत हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here