Home राजनीति मप्र में कांग्रेस – बसपा गठबंधन लगभग तय

मप्र में कांग्रेस – बसपा गठबंधन लगभग तय

265
0

मप्र में कांग्रेस – बसपा गठबंधन लगभग तय
भोपाल । विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र बसपा और कांग्रेस के नेताओं की दिल्ली में कई दौर की बैठकों के बाद दोनों दलों ने साथ चुनाव लडऩे का फैसला किया है। यूपी से स्टे जिलों एवं अपने वोटबैंक वाली 26 सीट बसपा को मिल सकती हैं। जबकि शेष 204 सीटों पर कांग्रेस अपने प्रत्याशी उतारेगी। हालांकि अभी किसी भी दल ने गठबंधन का अधिकृत तौर पर ऐलान नहीं किया है।

प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के वर्तमान में 4 विधायक हैं। बसपा का प्रभाव ग्वालियर-चंबल, विंध्य एवं बुंदेलखंड क्षेत्र के जिलों में है और मौजूदा विधायक भी इसी क्षेत्र से आते हैं। खास बात यह है कि बहुजन समाज पार्टी सीमावर्ती जिलों में ही 30 सीटें मांगी हैं, लेकिन दोनों दलों के नेताओं के बीच कई दौर की बैठकों के बाद 26 सीटों पर बसपा राजी होती दिख रही है। दोनों दलों में से किसी ने प्रदेश इकाई को इसमें भागीदार नहीं बनाया है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ की बसपा सुप्रीमो मायावती से बेहतर राजनीतिक संबंध है। पिछले साल राज्यसभा चुनाव में बसपा के चारों विधायकों ने कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तन्खा के पक्ष में मतदान किया था। बताया जाता है कि इसके पीछे कमलनाथ की ही रणनीति थी।

दोनों दलों के बीच इस बात को लेकर भी मंथन चल रहा है कि गठबंधन के बाद क्या कांग्रेस का वोटबैंक बसपा को ट्रांसफर होगा। क्योंकि कांग्रेस का सर्वण वोट बैंक पार्टी का प्रत्याशी नहीं उतरने पर भाजपा या अन्य के खाते में जा सकता है। जबकि बसपा का 90 फीसदी वोटबैंक कांग्रेस के पक्ष में जाने की संभावना रहती है। हालांकि पिछले विधानसभा चुनाव में दलों के मत प्रतिशत के आंकड़ों के अनुसार भाजपा को 44.80 फीसदी, कांग्रेस को 36.38 फीसदी एवं बसपा को 6.29 फीसदी वोट मिले। कांग्रेस और बसपा का कुल मत प्रतिशत भाजपा से कम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here