Home अजब गजब women in Mauritania celebrates their divorce – Weird News News in Hindi...

women in Mauritania celebrates their divorce – Weird News News in Hindi – शौहर से तलाक के बाद होती है ज़बरदस्त ‘divorce party’ और फिर धूमधाम से होता है दूसरा निकाह

32
0

 

नई दिल्ली। अफ्रीका महाद्वीप के उत्तर-पश्चिम में एक इस्लामिक देश है, जिसका नाम है मॉरीतानिया। 28 नवंबर 1960 में फ्रांस से आज़ादी मिलने के बाद इस देश में कई बदलाव देखने को मिले। करीब 43 लाख की आबादी वाले इस इस्लामिक देश की दशा बाकि के इस्लामिक देशों से काफी अलग है। चलिए अब हम आपको बताते हैं कि आखिर इस देश में ऐसा क्या है जो इसे बाकि के देशों से अलग बनाते हैं। जैसा कि आप जानते हैं कि ज़्यादातक इस्लामिक देशों में महिलाएं तलाक जैसी स्थिति से काफी डर जाती हैं, क्योंकि उन्हें अपने भविष्य की चिंता सताने लगती हैं। इसके साथ ही उन्हें कोई पुरुष जल्दी अपनाने में हिचकिचाते हैं। लेकिन मॉरीतानिया की तस्वीरें और हालात बिल्कुल अलग हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी कि इस देश की महिलाएं तलाक के बाद जश्न मनाती हैं, ठीक वैसा ही जश्न जो शादी के दौरान मनाया जाता है। शौहर से तलाक के बाद महिला एकदम दुल्हन की तरह सजती-संवरती है और फिर एक शानदार पार्टी होती है। इस पार्टी को आमतौर पर ‘divorce party’ कहा जाता है। जर्मन टीवी चैनल Deutsche Welle (DW) के एक रिपोर्टर ऐसी ही एक महिला के घर पहुंचे, जहां ‘divorce party’ दी जा रही थी। महिला का नाम मेरियम (23) है, जिनका तीन महीने पहले तलाक हो गया था।

मेरियम ने बताया कि शादी के बाद पति के साथ केवल एक साल ही रिश्ता रहा। जिसके बाद उनके पति ने तलाक दे दिया। यहां की एक सामाजिक कार्यकर्ता ने बताया कि मॉरीतानिया में तलाक कोई बड़ा मुद्दा नहीं है। उन्होंने बताया कि यदि कोई पुरुष अपनी पत्नी को तलाक दे दे, तो इसका मतलब ये नहीं है कि वह कभी शादी नहीं कर पाएगी। ऐसी स्थिति में समाज किसी भी प्रकार से महिला को कोई यातना नहीं पहुंचाता। इतना ही नहीं यहां के मर्दों को भी एक तलाकशुदा महिला से शादी करने में कोई आपत्ति नहीं होती।

मेरियम ने बताया कि उन्हें शादी की वजह से पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक मॉरीतानिया में 31 प्रतिशत शादियां तलाक के बाद टूट जाती हैं। रिपोर्टर ने जब मेरियम से दूसरी शादी का सवाल पूछा तो मेरियम ने कहा कि वह बेशक दूसरी शादी करेंगी।

सौजन्य: DW Stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here