Home गुजरात 9/11 जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान मानवता के मूल्यों से ही होगा...

9/11 जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान मानवता के मूल्यों से ही होगा : पीएम मोदी

17
0

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आज के ही दिन स्वामी विवेकानंद ने वैश्विक मंच पर खड़े होकर दुनिया को भारतके मानवीय मूल्यों से परिचित कराया था। आज दुनिया ये महसूस कर रही है कि 9/11 जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान, मानवता के इन्हीं मूल्यों से ही होगा।
दुनिया के इतिहास की एक ऐसी तारीख जिसे मानवता पर प्रहार के लिए जाना जाता है। लेकिन इसी तारीख ने पूरे विश्व को काफी कुछ सिखाया है। इस सदी पहले 11 सितंबर 1893 का ही दिन जब शिकागो में विश्व धर्म संसद का आयोजन हुआ था। पीएम मोदी अहमदाबाद में 200 करोड़ रुपए की लागत से नवनिर्मित सरदारधाम के लोकार्पण के अवसर पर बोल रहे थे।

अहमदाबाद के वैष्णोदेवी सर्कल के निकट बने सरदारधाम का ई लोकार्पण करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि किसी भी शुभ काम से पहले हमारे यहां गणेश पूजन की परंपरा है और सौभाग्य से सरदारधाम भवन का श्रीगणेश ही गणेश पूजन के अवसर पर हो रहा है। कल श्रीगणेश चतुर्थी थी और अभी पूरा देश गणेशोत्सव मना रहा है। मैं आप सभी को गणेश चतुर्थी और गणेशोत्सव की हार्दिक बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि आज 11 सितंबर को एक और बड़ा अवसर है। आज भारत के महान विद्वान, दार्शनिक और स्वतंत्रता सेनानी सुब्रमण्यम भारती की 100वीं पुण्यतिथि है।

सरदार साहब जिस एक भारत-श्रेष्ठ भारत का विजन लेकर चलते थे, वही दर्शन महाकवि भारती की तमिल लेखनी में पूरी दिव्यता के साथ निखरता रहा है। आज इस अवसर पर मैं एक महत्वपूर्ण घोषणा भी कर रहा हूं। बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी में सुब्रमण्यम भारती जी के नाम से एक चेयर स्थापित करने का निर्णयकिया गया है। तमिल स्टडी पर सुब्रमण्यम भारती चेयर बीएचयू फेकल्टी ऑफ आर्ट में स्थापित होगी।

पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात तो अतीत से लेकर आज तक साझा प्रयासों की ही धरती रही है। आजादी की लड़ाई में गांधी जी ने यहीं से दांडी यात्रा की शुरुआत की थी, जो आज भी आजादी के लिए देश के एकजुट प्रयासों का प्रतीक है। इसी तरह खेडा आंदोलन में सरदार पटेल के नेतृत्व में किसान, नौजवान, गरीब एकजुटता ने अंग्रेजी हुकूमत को झुकने पर मजबूर कर दिया था। वो प्रेरणा, वो ऊर्जा आज भी गुजरात की धरती पर सरदार साहब की गगनचुंबी प्रतिमा, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के रूप में हमारे सामने खड़ी है। उन्होंने कहा कि पाटीदार समाज की तो पहचान रही है, ये जहां कहीं भी जाते हैं वहां के व्यापार को नई पहचान देते हैं। आपका ये हुनर अब गुजरात और देश में नहीं बल्कि पूरी दनिया में पहचाना जाने लगा है। पाटीदार समाज की एक और भी बड़ी खूबी है ये कहीं रहें, भारत का हित आपके लिए सर्वोपरि रहता है।

पीएम मोदी ने कहा कि भविष्य में मार्केट में कैसी स्कील की डिमांड होगी, भविष्य के विश्व का नेतृत्व करने के लिए हमारे युवाओं को क्या कुछ चाहिए होगा, राष्ट्रीय शिक्षा नीति स्टूडेंट्स को शुरुआत से ही इन वैश्विक वास्तविकता के लिए तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि समाज के जो वर्ग, जो लोग पीछे छूट गए हैं, उन्हें आगे लाने के लिए सतत प्रयास हो रहे हैं। आज एक ओर दलितों पिछड़ों के अधिकारों के लिए काम हो रहा है, तो वहीं आर्थिक आथार पर पिछड़ गए लोगों को भी 10 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here