Home गुजरात भूपेन्द्र पटेल मंत्रिमंडल में शामिल होंगे कई नए चेहरे तो कइयों का...

भूपेन्द्र पटेल मंत्रिमंडल में शामिल होंगे कई नए चेहरे तो कइयों का होगा पत्ता साफ़

18
0

शपथ ग्रहण 16 को

अहमदाबाद। गुजरात में मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल के शपथ लेने के बाद अब नए मंत्रिमंडल के विस्तार की कवायद तेज हो गई है। इस कवायद में कई नए चेहरों को जगह मिलने की आशा है तो वहीँ नितिन पटेल समेत कइयों का पत्ता साफ़ होने की प्रबल संभावना है।

भाजपा ने जिस तरह से पाटीदारों को खुश करने के लिए पाटीदार मुख्यमंत्री बना दिया है उसी तरह अब लगता है की जातिगत आधार पर नया मंत्रिमंडल के गठन की संभावना है और इस मंत्रिमंडल में कई नए चेहरों को शामिल किया जा सकता है। वहीँ दूसरी ओर विजय रूपाणी सरकार के कई मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाए जाने की संभावना है।

राज्य सरकार में अब तक पाटीदारों के दिग्गज नेता नितिन पटेल नंबर दो की भूमिका में रहे हैं। लेकिन नए मंत्रिमंडल में अब मुख्यमंत्री पाटीदार होने से नितिन पटेल के पद को लेकर आशंका बन गई है।

वहीँ शिक्षा मंत्री भूपेन्द्रसिंह चूडास्मा को विधानसभा अध्यक्ष बनाए जाने की संभावना है।
भूपेन्द्र पटेल मंत्रिमंडल में जिन विधायकों को शामिल किए जाने की संभावना है, उनमें रावपुरा के राजेन्द्र त्रिवेदी, लींबडी के किरीटसिंह राणा, भावनगर दक्षिण के जीतु वाघाणी, भुज की नीमाबेन आचार्य, गढ़डा के आत्माराम परमार, नडियाद के पंकज देसाई, महुवा (भावनगर) के आरसी मकवाणा, धारी के जेवी काकडिया, विसनगर के ऋषिकेश पटेल, डीसा के शशीकांत पंड्या, मोरबी के ब्रिजेश मेरजा, कपराडा के जीतु चौधरी, महुवा (सूरत) के मोहन ढोडिया, मजूरा के हर्ष संघवी, भाभर के कीर्तिसिंह वाघेला, प्रांतिज के गजेन्द्रसिंह परमार, एलिसब्रिज के राकेश शाह और केशोद के देवा मालम शामिल हैं।
विजय रूपाणी सरकार में मंत्री रहे जामनगर दक्षिण के आरसी फलदु, नारणपुरा के कौशिक पटेल, मांगरोल (सूरत) के गणपत वसावा, जेतपुर के जयेश रादडिया, चाणस्मा के दिलीप ठाकोर, जसदण के कुंवरजी बावलिया, माणावदर के जवाहर चावडा, वटवा के प्रदीपसिंह जाडेजा, अंकलेश्वर के ईश्वर पटेल, जामनगर उत्तर के हकुभा जाडेजा और देवगढ बारिया के बाबु खाबड को नए मंत्रिमंडल में जगह मिलने की संभावना है। जबकि मेहसाणा से विधायक नितिन पटेल, धोलकासे भूपेन्द्रसिंह चूडास्मा, बोटाद से सौरभ पटेल, बारडोली से ईश्वर परमार, भावनगर पूर्व से विभावरी दवे, अंजार से वासण आहिर, वराछा से किशोर कानाणी, भावनगर ग्रामीण से पुरुषोत्तम सोलंकी, हालोल से जयद्रथसिंह परमार और उमरगाम से रमण पाटकर का पत्ता कट सकता है।

बता दें कि गुजरात विधानसभा के आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए राज्य की राजनीति में बड़ा फेरबदल हो रहा है। गुजरात ही नहीं भाजपा एक खास मास्टर प्लान के तहत अपने मुख्यमंत्रियों को बदल रही है। गुजरात में भूपेन्द्र पटेल को मुख्यमंत्री बनाए जाने से ऐसा लग रहा है कि फिर एक बार पाटीदारों पर विधानसभा चुनाव का दारोमदार है। पाटीदार की मांग के मुताबिक भाजपा ने गुजरात में पाटीदार मुख्यमंत्री बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here