Home गुजरात मंत्रियों को सरकारी काम के बगैर कोई यात्रा नहीं करने का आदेश

मंत्रियों को सरकारी काम के बगैर कोई यात्रा नहीं करने का आदेश

53
0

अहमदाबाद। मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण के बाद एक्शन में आ गए हैं और अपने मंत्रियों को अगले 15 दिनों तक गांधीनगर नहीं छोड़ने और सरकारी काम के बगैर कोई यात्रा नहीं करने का सख्त आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को अपने विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करने का भी आदेश दिया है।  

बता दें कि 10 कैबिनेट मंत्रियों में राजेन्द्र त्रिवेदी, जीतू वाघाणी, राघवजी पटेल, किरीट सिंह राणा और पूर्णेश मोदी को छोड़ अन्य मंत्रियों को प्रशासन का अनुभव नहीं है। अर्थात पांच मंत्री कोरा कागज हैं और अब सरकार के किसी भी पद नहीं रहे। इन पांच मंत्रियों में ऋषिकेश पटेल, कनु देसाई, नरेश पटेल, प्रदीप परमार और अर्जुनसिंह चौहाण कोई अनुभव नहीं है,  इसके बावजूद उन्हें कैबिनेट मंत्री बना दिया गया।  राज्य मंत्रियों में जिन पांच को स्वतंत्र प्रभार मिला है, उन्हें भी कोई अनुभव नहीं है।

हर्ष संघवी, जगदीश पंचाल, ब्रिजेश मेरजा, जीतू चौधरी और मनीषा वकील को केवल विधायकी का अनुभव है। इसके बावजूद इन पांच को स्वतंत्र प्रभार दिया गया है।  वैसे राज्य के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल को भी सरकार चलाने का कोई अनुभव नहीं है। उन्हें अहमदाबाद महानगर पालिका और अहमदाबाद नगर विकास प्राधिकरण में काम करने का अनुभव है।

दरअसल आगामी 2020 में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने एक सोची समझी रणनीति के तहत राज्य में नेतृत्व परिवर्तन किया है और सभी नए चेहरों को सरकार में शामिल किया है| नवनियुक्त मंत्रियों को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देते हुए 100 प्रतिशत पर्फोमेन्स देने का आदेश दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here