Home देश 3 वर्षीय बच्ची के साथ हुई थी हैवानियत, मां समेत 8 गवाह...

3 वर्षीय बच्ची के साथ हुई थी हैवानियत, मां समेत 8 गवाह मुकरे, कोर्ट ने दी उम्रकैद की सजा

6
0

बयान और रिपोर्ट के आधार पर दुष्कर्मी चाचा को कोर्ट ने दी उम्रकैद की सजा

पटना । 3 वर्ष की मासूम के साथ दुष्कर्म मामले में कोर्ट ने दुष्कर्मी चाचा को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। चाचा-भतीजी के पाक रिश्ते को शर्मसार करने वाली घटना नवगछिया के गोपालपुर थाना क्षेत्र का है। भागलपुर के पोक्सो कोर्ट ने मासूम पीड़िता के बयान और मेडिकल साक्ष्य में दोषी पाए जाने के आधार पर दुष्कर्मी चाचा को आज आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

क्या है मामला ?

पुलिस जिला मुख्यालय नवगछिया के गोपालपुर थाना अंतर्गत का है। जब 9 माह पूर्व क्षेत्र की ही 3 वर्षीय मासूम शौच के लिए घर से निकली थी, इसी दौरान गांव के ही 18 वर्षीय चाचा ने बच्ची का मुंह दबाकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। घटना के बाद बच्ची की हालत ख़राब होता देख मां के पूछने पर डरी सहमी छोटी सी बच्ची ने आपबीती बताई।

पुलिस ने बच्ची की मां के शिकायत पर आरोपी चाचा के खिलाफ गोपालपुर थाना में मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

मासूम ने रोते हुए कोर्ट को घटना के बाबत सारी हकीकत बतया था और कोर्ट ने सेक्सुअल असाल्ट में दोषी मानते हुए माँ एवं अन्य के मुकरने के बाद भी दुष्कर्मी को उसके किये अपराध के लिए सजा सुना दी।

मामले में पोक्सो कोर्ट के स्पेशल पीपी नरेश प्रसाद राम ने बताया कि घटना के बाद आरोपी की कोर्ट में पेशी हुई , जहां पीड़िता की मां सहित कुल 8 गवाहों ने अपना-अपना पल्ला झाड़ घटना से मुकर गए। लेकिन मासूम पीड़िता ने अपने साथ हुई घटना की जानकारी कोर्ट को दी थी और 161, 164 के बयान में रोते हुए घटनास्थल का हवाला देते हुए दुष्कर्मी की पहचान कर उसे बलात्कारी चाचा को भी बताया था। उन्होंने बताया कि आरोपी को दोषी ठहराने में मेडिकल रिपोर्ट भी अहम साक्ष्य साबित हुआ, जिसमें मासूम के साथ सेक्सुअल असाल्ट की पुष्टि हुई। और कोर्ट ने 164 के बयान को आधार बनाया और मेडिकल रिपोर्ट में आरोपी को दोषी पाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुना दी।

कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाते हुए 25 हज़ार का जुर्माना एवं सरकार को भी मासूम के भरण पोषण के लिए उसके परिजन को 5 लाख रुपये की राशि देने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here