Home धर्म देश में कम हो जाएगी प्राकृतिक आपदाएं, बदल रही है ग्रहों की...

देश में कम हो जाएगी प्राकृतिक आपदाएं, बदल रही है ग्रहों की चाल

63
0

27 अगस्त 2018 से मंगल मार्गी होने जा रहे हैं। ज्योतिष गणना के अनुसार ग्रह की दो तरह की चाल होती है एक व्रकी और दूसरी मार्गी। ज्योतिष में मंगल को उग्र स्वभाव का ग्रह माना जाता है लेकिन जिस जातक की कुंडली में यह शुभ स्थान पर बैठता उसको बहुत लाभ पहुंचाता है। मंगल को क्रूर ग्रह माना जाता है। मंगल ग्रह ऊर्जा, शक्ति एवं पराक्रम का कारक है। इसके अलावा यह रक्तपात एवं ख़ून से संबंधित बीमारियों का भी प्रतिनिधित्व करता है। कर्क एवं सिंह राशि के लिए मंगल एक योगकारक ग्रह है और यह मेष एवं वृश्चिक राशि का स्वामी ग्रह है। मंगल साहस और संकल्प शक्ति को भी दर्शाता है। मंगल ग्रह 27 अगस्त शाम 7 बजकर 36 मिनट पर मंगल मकर राशि में मार्गी होंगे। ऐसा माना जा रहा है कि मंगल के मार्गी होने की वजह से पिछले 62 दिनों से जो प्राकृतिक आपदाएं, आगजनी, वाद-विवाद और बाढ़ जैसी समस्याएं पैदा हुई थीं उनसे मुक्ति मिलने वाली है।

mangal grah

व्यापारियों को होगा लाभ

27 अगस्त से मंगल शुभ फल देने वाले हैं जिससे व्यापार, भूमि, अचल संपत्ति जैसे कार्यों में भारी लाभ मिलेगा। मंगल ग्रह अपनी उच्च राशि मकर में गोचर करेगा जिसकी वजह से कई लोगों को राहत मिलने वाली है। राशि अनुसार मंगल के मार्गी होने का कैसा प्रभाव पड़ेगा आइए ये भी जानते हैं।

12 राशियों पर भी पड़ेगा प्रभाव

ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की चाल का प्रभाव सभी राशियों पर देखने को मिलता है। प्रभाव बुरा भी पड़ता है, तो अच्छा भी पड़ता है। उच्छे या बुरे प्रभाव की स्थिति प्रत्येक व्यक्ति की कुंडली में ग्रहों की स्थिति पर निर्भर करता है। यदि ग्रह अनुकूल दिशा में चल रहा है, तो लाभ देगा लेकिन यदि ये प्रतिकूल हो गया तो जीवन बर्बाद कर सकता है। ज्योतिश के अनुसार मंगल ग्रह को उग्र स्वभाव का ग्रह माना जाता है। लेकिन इसकी अनुकूलता बहुत लाभदायक होती है। ऐसे में मंगल का मकर राशि में सिधी चाल चलने से सभी 12 राशियों पर इसका प्रभाव पड़ेगा। जिनमें से 5 राशियों मेष, मिथुन, कन्या, वृश्चिक और मीन राशि पर इसका प्रभाव सबसे ज्यादा पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here