Home गुजरात भविष्य का सबसे अत्याधुनिक इंडस्ट्रियल सिटी बनेगा धोलेरा

भविष्य का सबसे अत्याधुनिक इंडस्ट्रियल सिटी बनेगा धोलेरा

30
0

दुबई एक्सपो के ग्लोबल प्लेटफॉर्म से दुनियाभर के कारोबारियों व निवेशकों से गुजरात में निवेश का आह्वान


अहमदाबाद | मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने दुनियाभर के कारोबारियों, उद्योगपतियों और निवेशकों से गुजरात में अपने कारोबार का विस्तार करने और ग्लोबल बिजनेस डेवलपमेंट से जुड़ने का आह्वान किया है। इस संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि पॉलिसी ड्रिवन स्टेट, मजबूत बुनियादी ढांचा और सर्वग्राही विकास की मंशा के साथ गुजरात प्रधानमंत्री के ‘आत्मनिर्भर भारत-मेक इन इंडिया’ के संकल्प को देश-विदेश के निवेशों को गुजरात में आकर्षित कर साकार करने को प्रतिबद्ध है। यह बात उन्होंने दुबई में चल रहे दुबई एक्सपो-2020 में इंडिया पैवेलियन में ‘धोलेरा पायोनियरिंग स्मार्ट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट इन इंडिया’ थीम पर आयोजित विशेष सत्र को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज गुजरात की चर्चा और तुलना दुनिया के विकसित देशों के साथ हो रही है। देश का सर्वाधिक यानी 37 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) अकेले गुजरात ने हासिल किया है।

इंजीनियरिंग, ऑटो पार्ट्स टेक्सटाइल, फार्मास्यूटिकल, केमिकल और जेम एंड ज्वैलरी के क्षेत्र में गुजरात अग्रणी राज्य है। उन्होंने कहा कि 1600 किलोमीटर लंबे विशाल समुद्री तट वाला गुजरात 1 मेजर और 48 नॉन-मेजर पोर्ट के कारण मध्य पूर्व, अफ्रीका और यूरोप के साथ सामुद्रिक व्यापार का प्रवेश द्वार बना है। पटेल ने यह साफ किया कि गुजरात निवेश का सर्वश्रेष्ठ विकल्प बना है उसमें विशेष निवेश क्षेत्र (एसआईआर-सर) का योगदान महत्वपूर्ण रहा है।

उन्होंने ऐसे सभी एसआईआर में धोलेरा एसआईआर के सबसे आगे होने का गौरवपूर्ण उल्लेख करते हुए कहा कि धोलेरा एसआईआर को विश्वस्तरीय इंडस्ट्रियल स्मार्ट सिटी बनाने के प्रधानमंत्री के स्वप्न को साकार करने की प्रतिबद्धता साकार होगी।

भूपेंद्र पटेल ने धोलेरा एसआईआर ग्रीनफील्ड प्रोजेक्ट की विशेषताओं की जानकारी देते हुए कहा कि 920 वर्ग किलोमीटर के विशाल क्षेत्र में आकार लेने वाला यह प्रोजेक्ट दिल्ली-मुंबई औद्योगिक गलियारे (डीएमआईसी) के एक हिस्से के रूप में तथा नेक्स्ट जनरेशन टेक्नोलॉजी से सुसज्जित स्टेट ऑफ दी आर्ट फैसेलिटी युक्त सुनियोजित शहर बनेगा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि धोलेरा एसआईआर में एयरोस्पेस, डिफेंस, इंजीनियरिंग, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स तथा रिन्यूएबल एनर्जी सहित अनेक क्षेत्रों के लिए संभावनाएं हैं। अभी राष्ट्रीय और राज्य राजमार्ग के साथ जुड़े धोलेरा के निकट भविष्य में अहमदाबाद के साथ एक्सप्रेस वे के जरिए जुड़ने की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि धोलेरा में विशाल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का काम भी शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि धोलेरा एसआईआर के साथ गुजरात के वैश्विक औद्योगिक विकास के एक नए युग की शुरुआत होने जा रही है।

भूपेंद्र पटेल ने आगामी वाइब्रेंट समिट-2022 में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के कारोबारियों और उद्यमियों को सहभागिता का आमंत्रण भी दिया। उन्होंने कहा कि गुजरात की वैश्विक पहचान बन चुकी वाइब्रेंट समिट में शिरकत करने वाले उद्योगपति और निवेशक भारत की सबसे पहली ग्रीनफील्ड स्मार्ट इंडस्ट्रियल सिटी- धोलेरा का दौरा कर विकास की गाथा को साकार होते हुए प्रत्यक्ष रूप से देख सकेंगे। उन्होंने दुबई एक्सपो-2020 में सहभागी बने सभी लोगों से उत्साहपूर्वक कहा, ‘इंडस्ट्रियल स्मार्ट सिटी धोलेरा में आएं और कारोबार एवं औद्योगिक विकास के लिए नए बेंचमार्क स्थापित करें।’ मुख्यमंत्री के इस प्रभावशाली संबोधन का उपस्थित सभी लोगों ने हर्षध्वनि से स्वागत किया।

इस विशेष सत्र में दुबई के प्रतिष्ठित सराफा समूह के वाइस चेयरमैन सैफुद्दीन शराफ, दुबई स्थित भारत के महावाणिज्य दूत अमन पुरी, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के चेयरमैन संजीव गुप्ता ने भी भारत के विकास में गुजरात के नेतृत्व की प्रशंसा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here