Home गुजरात कानून मंत्री ने सूरत दुष्कर्म केस में पुलिस कार्यवाही की सराहना की

कानून मंत्री ने सूरत दुष्कर्म केस में पुलिस कार्यवाही की सराहना की

11
0

अहमदाबाद। राज्य के कानून मंत्री राजेन्द्र त्रिवेदी ने 4 साल की बच्ची से दुष्कर्म के मामले में पुलिस की तेज कार्यवाही की सराहना करते हुए कहा कि जिस प्रकार सूरत पुलिस ने मासूम बच्ची के अपराधी को गिरफ्तार करने और कोर्ट में चार्जशीट पेश कर पीड़िता को न्याय दिलाया वह वाकई काबिले तारीफ है। गौरतलब हो कि गत 12 अक्टूबर को सूरत के सचिन जीआईडीसी क्षेत्र में चार साल की मासूम बच्ची के साथ 39 वर्षीय हनुमान उर्फ अजय निषाद नामक शख्स ने दुष्कर्म किया था।

घटना की जानकारी मिलते ही हरकत में आई पुलिस ने अलग अलग टीमों ने आरोपी तलाश की और उसे गिरफ्तार करने के बाद 10 दिनों के भीतर सूरत के पोस्को कोर्ट में चार्जशीट भी पेश कर दी। अदालत ने भी तेजी से कार्यवाही करते हुए मात्र 5 दिनों के ट्रायल के बाद बीते दिन आरोपी को दोषी करार देते हुए ताउम्र सजा सुना दी।

इस मामले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कानून मंत्री राजेन्द्र त्रिवेदी ने सूरत पुलिस का अभिनंदन किया और कहा कि दुष्कर्म केस में तेजी से न्याय मिलना जरूरी है। गांधीनगर दुष्कर्म केस में भी गृह राज्य मंत्री से त्वरित न्याय दिलाने की ताकीद की है। उन्होंने कहा कि राज्य में दुष्कर्म केस में अब इसी प्रकार कार्यवाही होगी।

फूटपाथ पर नॉनवेज का धंधा करने वालों को 10 दिनों का अल्टीमेटम

फूटपाथ पर नॉनवेज और वेज के व्यवसाय को लेकर भी राजेन्द्र त्रिवेदी ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि फूटपाथ पर नॉनवेज और वेज का धंधा करने वाले खोमचे इत्यादि को हटाया जाना चाहिए। फूटपाथ पर धंधा करने का किसी का अधिकार नहीं है।

गौरतलब है कि वडोदरा महानगर पालिका की स्थायी समिति के अध्यक्ष की बुधवार को हुई बैठक में किए गए फैसले के मुताबिक खुले में मीट-मछली या आमलेट की लारियां बंद करने का आदेश दिया गया है। पहले राजकोट और अब वडोदरा में खुले में नॉनवेज के धंधे पर नकेल कसी गई है। वडोदरा महानगर पालिका ने फूटपाथ पर नॉनवेज का धंधा करने वालों को 10 दिनों का अल्टीमेटम दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here