Home मनोरंजन ट्रांसजेंडर और ट्रांस सेक्सुअल महिला के बीच एक बड़ा अंतर : नाज़...

ट्रांसजेंडर और ट्रांस सेक्सुअल महिला के बीच एक बड़ा अंतर : नाज़ जोशी

39
0

‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ पर बोलीं नाज़ जोशी

ट्रांसजेंडर महिलाओं को समाज में सम्मान दिलाने के लिए काम करने वालीं नाज़ जोशी कई सारे इंटरनेशनल ब्यूटी कॉन्टेस्ट का खिताब अपने नाम कर चुकी हैं. इसी साल उन्होंने इंप्रेस अर्थ 2021-22 का खिताब भी जीता है। हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म चंडीगढ़ करे आशिकी पर अपनी प्रतिक्रियाओं से वह काफी चर्चा में हैं.
आयुष्मान खुराना और वानी कपूर की इस फिल्म में वाणी ने एक ट्रांसजेंडर का रोल निभाया है। वहीं, आयुष्मान खुराना ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ फ़िल्म में फिटनेस ट्रेनर मनविंदर मुंजाल उर्फ मनु बने हैं, जिसे जुम्बा क्लासेस चलाने वाली मानवी बरार यानी वाणी से प्यार हो जाता है। दोनों के बीच प्यार-मोहब्बत, इकरार, इजहार तक तो सब ठीक रहता है, लेकिन असल दिक्कत आती है जब मनु को मानवी के अतीत के बारे में पता चलता है। फिल्म इंडस्ट्री में चर्चा आम है कि फिल्म ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ एक किन्नर की प्रेम कहानी है, लेकिन मनु और मानवी के बीच असल प्रॉब्लम क्या है, इसे समझने के लिए फिल्म के कलाकार के साथ साथ नाज़ जोशी ने भी फिल्म देखने की अपील करते हुए वाणी कपूर का धन्यवाद किया है कि उन्होंने इस फिल्म में ट्रांसजेंडर का रोल निभाया. इसके साथ ही उन्होंने अपनी फिल्म रिवेंज का भी पोस्टर शेयर किया.

नाज़ जोशी ने अपने सोशल मीडिया Koo पर पोस्ट करते हुए लिखा कि मुझे वाणी कपूर पर #chandigharhkareaashiqui में ट्रांस सेक्सुअल की भूमिका निभाने पर बहुत गर्व है. यह समय पलटने का है. आप सभी मुझे मेरी आने वाली फिल्म revenge में सिस जेंडर फीमेल की भूमिका निभाते हुए देखें.Koo AppI am so proud of vaani kapoor playing the role of trans sexual in #chandigharhkareaashiqui. Its time to turn the table, hey guys watch me in my upcoming film #revenge as playing cis gender female. View attached media contentNaaz Joshi (@Naaz_Joshi)

वहीं, नाज़ ने एक और पोस्ट के ज़रिए ट्रांसजेंडर और ट्रांस सेक्सुअल महिला के बीच एक अंतर बताया.
नाज़ ने Koo करते हुए लिखा कि, ट्रांसजेंडर और ट्रांस सेक्सुअल महिला के बीच एक बड़ा अंतर है। मुझे ट्रांस सेक्सुअल महिला सेलिब्रिटी होने पर गर्व है. राख से लेकर दौलत तक मैंने यह सब देखा है, मेरी माँ के मुझे मारने की कोशिश करने से लेकर ट्रांस लोगों द्वारा मेरी जान बचाने वाले तक. हम भी इंसान हैं, सम्मान दो और सम्मान पाओ.Koo AppTrans rights are human rights, there is a major difference between transgender and trans sexual female, I am a proud trans sexual female celebrity. From ashes to riches I have seen it all, from my mom trying to kill me to trans people saving my life. We are humans too, give respect and get respect #humanrights #rightstochooseyourselfNaaz Joshi (@Naaz_Joshi)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here