Home गुजरात देश के शीर्ष नियार्तक 12 जिलों में गुजरात के 6 जिलों का...

देश के शीर्ष नियार्तक 12 जिलों में गुजरात के 6 जिलों का समावेश

26
0

अहमदाबाद। देश के शीर्ष 12 निर्यातक जिलों में गुजरात के 6 जिलों को शामिल किया गया है। पहले पायदान पर जामनगर और सूरत ने दूसरा स्थान हासिल किया है। दरअसल केन्द्र सरकार द्वारा अप्रैल 2021 से जिलेवार निर्यात का डेटा तैयार किया जा रहा है, जिसमें निर्यात करने वाले देश के शीर्ष 30 जिलों की सूची जारी की गई है। इस सूची में सितंबर के दौरान शीर्ष निर्यात कमोडिटी को शामिल किया गया है| यह जानकारी केन्द्रीय उद्योग एवं वाणिज्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने राज्यसभा में दी| देश के शीर्ष 12 निर्यातक जिलों में गुजरात का जामनगर ने पहला स्थान हासिल किया।

जामनगर से पेट्रोलियम उत्पाद, कार्बनिक और अकार्बनिक रसायण, प्लास्टिक एवं लिनोलियम, मीका, कोयला और अन्य खनिजों समेत कुल 22100 करोड़ से अधिक का निर्यात किया गया| सूरत में जेम्स एन्ड ज्वैलरी, इंजीनियरिंग गुड्स, मानवसर्जित वाहन, फैब्रिक्स, मेडअप्स, ऑर्गेनिक एवं इनऑर्गनिक कैमिकल्स, कोटन यार्न, रफ ब्रिक्स, मेडअप्स, हेन्डलूम प्रोडक्ट्स समेत रु. 9696 करोड़ से अधिक का निर्यात किया गया। सूरत से टेक्सटाइल, केला, सूरत जरी क्राफ्ट एवं अनार के निर्यात की भी काफी संभावना है।

निर्यातकों की सूची में दक्षिण गुजरात के भरुच को छठा स्थान मिला है। जहां जैविक एवं अकार्बनिक रसायण, इंजीनियरिंग मटीरियल, प्लास्टिक एवं लिनोथियम, दवाईयां और फार्मास्युटिकल, कोटन यार्न, फैब्रिक्स, मेडअप्स, हेन्डलूम प्रोडक्ट्स एवं अन्य समेत 4696 करोड़ से अधिक का निर्यात किया गया। शीर्ष 12 निर्यातक जिलों में 8वां स्थान पाने वाले अहमदाबाद जिले से 4439 करोड़ से अधिक का निर्यात किया गया। जिसमें दवाईयां एवं फार्मास्युटिकल इंजीनियरिंग गुड्स, कोटन यार्न, फैब्रिक्स, मेडअप्स, हेन्डलूम प्रोडक्ट्स, ऑर्गेनिक एवं इनऑर्गेनिक कैमिकल्स व चावल समेत अन्य वस्तुएं शामिल हैं। सूची में 11वें स्थान पर देवभूमि द्वारका जिला है, जहां से पेट्रोलियम उत्पाद, कार्बनिक एवं अकार्बनिक रसायण, दरियाई उत्पाद, सिरामिक उत्पादन एवं कच्चे बर्तन शामिल हैं।

देवभूमि द्वारका से 3688 करोड़ से अधिक का निर्यात किया गया है। वहीं गुजरात का छठवा जिला है कच्छ, जो सूची में 12वें पायदान पर है। कच्छ से इंजीनियरिंग सामान, कार्बनिक एवं अकार्बनिक रसायण, चावल, कोटन यार्न, फैब्रिक्स, मेडअप्स, हेन्डलूम प्रोडक्ट्स, मीका, कोयला एवं अन्य खनिजों समेत 3448 करोड़ का निर्यात किया गया| कच्छ जिले में दरियाई चीजवस्तुएं, एरंड, कच्छी शाल, भरतकाम, आम के निर्यात की विपुल संभावना है| इसके अलावा इस सूची में गुजरात के वडोदरा को 22वां और वलसाड को 23वां स्थान मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here