नई दिल्ली [Surat Darpan स्पेशल]। यदि आप महिला है और ध्रूमपान करती हैं तो ये खबर आपके लिए है। एक शोध में वैज्ञानिकों ने ये बात सिद्ध की है कि जो महिलाएं ध्रूमपान करती हैं उनमें आम महिलाओं के मुकाबले हार्ट अटैक का खतरा अधिक रहता है। ध्रूमपान करने वाली महिलाओं में पुरुषों की तुलना में हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा रहता है। एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि हृदय रोग भी विश्व में मौत का एक प्रमुख कारण है और तीव्र एसटी सेगमेंट एलिवेशन मायोकार्डियल इंफ्रक्शन (एसटीईएमआइ) हृदय रोग के सबसे अधिक जानलेवा रूपों में से एक है। एसटीईएमआइ को एक बड़ा दिल का दौरा भी कहा जाता है। यह मुख्य कोरोनरी धमनियों में ब्लॉकेज होने के कारण होता है।

ध्रूमपान करने वाली को आम महिलाओं के मुकाबले हार्ट अटैक का खतरा अधिक रहता है इसको लेकर शेफील्ड यूनिवर्सिटी और शेफील्ड टीचिंग हॉस्पिटल्स के एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट के शोधार्थियों ने संयुक्त रूप से किया। इसमें शोधकर्ताओं ने धूमपान करने वाले हृदय रोगियों के स्वास्थ्य की जांच कर उसका विश्लेषण किया गया। अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि धूमपान मरीजों में एसटीईएमआइ का जोखिम को बढ़ाता है, लेकिन पुरुषों की तुलना में महिलाओं में यह जोखिम अधिक पाया गया। इस वजह से उनमें हार्ट अटैक का खतरा अधिक रहता है। इस वजह से जो महिलाएं ध्रूमपान कर रही है वो हार्ट अटैक के खतरे का भी ध्यान रखें।
 

Posted By: Vinay Tiwari