नईदुनिया, जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल अस्पताल में अस्पताल कर्मचारी ने स्ट्रेचर न मिलने पर मरीज को फर्श पर घसीटकर एक्स-रे जांच कक्ष तक पहुंचाया। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद अधिकारियों ने तीन कर्मचारियों को निलंबित कर दो अन्य की सेवा समाप्ति का आदेश जारी कर दिया है। ओपीडी में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं, ताकि पता लग सके कि घटना कब की है। अस्पताल प्रशासन उस मरीज का पता नहीं लगा पाया है, जिसे फर्श पर घसीटा गया।

घटना की जांच के लिए डीन के निर्देश पर तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित करते हुए तीन दिन के भीतर रिपोर्ट सौंपने कहा गया है। चादर पर रखकर मरीज को घसीटने संबंधी 26 सेकंड के वीडियो में कर्मचारी चादर पकड़कर आगे तथा एक महिला पीछे चल रही है। ओपीडी से जिस कक्ष तक मरीज को पहुंचाया गया वहां सोनोग्राफी तथा एक्स-रे जांच होती है। सहायक अधीक्षक डॉ. अरविंद शर्मा ने बताया कि मामले में डीन डॉ. नवनीत सक्सेना ने सुरक्षा प्रभारी विकास नायडू, वार्ड ब्वॉय प्रभारी अमित दुबे, फैसिलिटी एग्जिक्यूटिव राजीव कश्यप को निलंबित कर दिया है। हाइट्स कंपनी के सुरक्षाकर्मी कैलाश ठाकुर व वार्ड ब्वॉय घनश्याम बाल्मीक की सेवा समाप्त कर दी गई है।

Posted By: Sanjay Pokhriyal