Dark Mode
Monday, 15 August 2022
हार्दिक पटेल बीजेपी में हुए शामिल

हार्दिक पटेल बीजेपी में हुए शामिल

कोबा से कमलम तक का निकाला रोड शो

अहमदाबाद। गुजरात के चर्चित पाटीदार नेता हार्दिक पटेल आज भाजपा में शामिल हो गए। इससे पहले कांग्रेसी नेता श्वेता ब्रह्मभट्ट प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल हुईं। बीजेपी में शामिल होने से पहले हार्दिक ने कोबा इलाके से बीजेपी कार्यालय 'कमलम' तक का रोड शो निकाला, जिसमें हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे। इसके बाद दोपहर 12.39 बजे के विजय मुहूर्त में कमलम में प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल की मौजूदगी में उन्होंने केसरिया पहन लिया।

भाजपा जॉइन करने से पहले पूजा-पाठ
हार्दिक ने पार्टी जॉइन करने से पहले एक पोस्टर जारी किया। पोस्टर के मुताबिक, भाजपा में जॉइन होने का कार्यक्रम सुबह 12 बजे होगा। इससे पहले उन्होंने अपने आवास पर दुर्गा पाठ किया। दुर्गा पूजा के बाद हार्दिक स्वामीनारायण मंदिर गए, जहां उन्होंने गो पूजा की। पूर्व कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने कहा- आज तक मैंने पद के लालच में कहीं भी किसी भी प्रकार की मांग नहीं रखी। कांग्रेस को भी मैंने काम मांगते हुए छोड़ा और भाजपा में भी मैं काम करने की परिभाषा के साथ जुड़ रहा हूं। स्थान की चिंता कमजोर लोग करते हैं। मजबूत लोग कभी भी स्थान की चिंता नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द हर 10 दिन में एक कार्यक्रम करेंगे जिसमें कांग्रेस पार्टी से नाराज विधायकों, जिला पंचायत या तहसील पंचायत के सदस्यों, नगर निगम के सदस्यों को जोड़ेंगे।

17 मई को दिया था इस्तीफा
लंबे समय से कांग्रेस के खिलाफ नाराजगी जाहिर कर रहे हार्दिक ने 17 मई को ट्विटर पर इस्तीफे का ऐलान किया था। उन्होंने राहुल गांधी पर कई आरोप लगाए थे। इस्तीफे के बाद से वह लगातार भाजपा के कामों की तारीफ कर रहे थे और खुद को हिंदुत्व का समर्थक भी बता रहे थे। तभी से ही इसकी संभावना व्यक्त की जा रही थी कि वे भाजपा में शामिल होंगे।

प्रदेश कांग्रेस के प्रति नाराजगी
हार्दिक की कांग्रेस के प्रति नाराजगी अब किसी से छिपी नहीं है। इससे पहले भी कांग्रेस के प्रति वो अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं। एक बयान में उन्होंने यहां तक कह दिया था कि कांग्रेस में उनकी हालत ऐसी हो गई है जैसे नए दूल्हे की नसबंदी करा दी हो। हालांकि, उन्होंने कहा कि वे राहुल गांधी या प्रियंका गांधी से नाराज नहीं हैं, प्रदेश नेतृत्व से नाराज हैं।

2014 से शुरू किया आंदोलन
हार्दिक पटेल 2014 में सरदार पटेल ग्रुप से जुड़े और आगे चलकर पाटीदार आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन शुरू किया। एक तरह से कहें तो यह समय उनके पॉलिटिकल कैरियर की शुरुआत थी। उन्होंने सितंबर 2015 में पटेल नवनिर्माण सेना का गठन किया। मकसद कुर्मी, पाटीदार और गुर्जर समुदाय को OBC में शामिल करना और उन्हें सरकारी नौकरियां दिलाना था। इसी आंदोलन के दौरान हार्दिक पहली बार सुर्खियों में आए।

हार्दिक पर लगे कई आरोप
कांग्रेस में रहते हुए हार्दिक पर कई तरह के आरोप लग चुके हैं। पार्टीदार नेता पर राष्ट्रीय झंडे के अपमान करने का आरोप लगाया गया था, जिसके चलते उन पर केस भी दर्ज किया गया। इसके अलावा उनका एक सीडी कांड भी खूब चर्चित रहा। सीडी कांड में वे एक एक लड़की के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखे थे। मामले में हार्दिक ने सफाई दी थी कि मैं युवा हूं और ये मेरी पर्सनल लाइफ है।

Comment / Reply From

You May Also Like